શબ્દોના પ્રેમમાં પડવાનો પ્રયાસ કરું છું.....

आज हाथ मे मोमबती लिए खड़े हो जाओ,
कल नुक्कड़ पर फिगर के किस्से दोहराएंगे ।।

कुछ सख्सियत ना हो तो कुछ फर्क नही पड़ता,
लेकिन हो तो बहुत फर्क पड़ता है ।।

कौन कहता है अच्छे लोग नही रहे अब,
एक लाइक क्या दो इनबॉक्स तलक खबर पूछने आ जाते है ।।