Hey, I am reading on Matrubharti!

वाह रे..!!इश्क़...तूने तो मेरी मुश्कुराहट ही ले ली,

'जान' कहते थे जिन्हें, उन्होंने ही जान ले ली.

आ जाओ फिर से मेरे खयालो में कुछ बातें करते है,...

कल जहाँ खत्म हुई थी वही से शरुआत करते हैं .!!!

વિખરાયેલા આ મનને ઢાળી શકું એવુ કોઈ બીબું તો મળે,...
હું આમતેમ નજર નાખુંને કાશ...સામે 'તું' મળે.

...vp...