Hey, I am reading on Matrubharti!

મૌસમ છે "તુ” મારી પ્રીતની...
હું વરસી પડું એક તારા સ્મિતથી...!!



Vishxl

❛સૂર લય ને તાલ જેવું હોય છે
સ્મિત એનું રૂમાલ જેવું હોય છે,

રોજ ઉડે રંગ એની યાદના
બારણે ગુલાલ જેવું હોય છે !❜




VishXl

Read More

ताउम्र जलते रहे हैं धीमी आंच पर,
तब जाकर ये चाय और इश्क़ मशहूर हुए है।


VISHXL

चेहरा बता रहा कि "भूख" से मरा है
लोग कह रहे" कुछ खाकर" मर गया


VISHXL

be happy😜

दोस्त, किताब, रास्ता, और सोच,
ये चारों जो जीवन में सही मिलें तो,
ज़िंदगी "निख़र" जाती है
वर्ना "बिख़र" ज़ाती है।



VISHXL

Read More

हर रोज़ हमारे लिए खास होती जा रही है,
चाय से मोहब्बत हमें बेहिसाब होती जा रही है ....
#☕️
#❤

हाँ", चाँद भी....!!
काजल लगाता है
मैंने देखा है उसकी ♥️आँखों में झांक कर !!
vishxl