तू किसी रेल सी गुजरती है मैं किसी पुल सा थरथराता हूं....

कैसे कह दूँ कि थक गया हूँ मैं
न जाने किस-किस का हौंसला हूँ मैं..
#KeepWorking #Responsibility

सारा ज़ामाना जब खिलाफ बोलता है,
तो समझ ले के तू साफ बोलता है....
#SpeakYourHeart #MondayMotivation

ઝીંદગી આ News Paper જેવી છે

જો તમે આજના છો તો કામ ના છો..

सोचा था बहुत दिलदार हैं दुनिया में सब मगर,
हक़ीक़त से जब रुबरु हुए हर शख्स मुफलिस मिला..
#DontExpect #FridayThoughts

जिन्दंगी को समझना बहुत मुशकिल हैं जनाब,
कोई सपनों की खातिर "अपनों" से दूर रहता हैं
और कोई "अपनों" के खातिर सपनों से दूर...!
#TuesdayMotivation #Sacrifice

Read More

जिस तरह चाहे नचा ले तू इशारे पे मुझे ए तकदीर,
तेरे ही लिखे हुए अफ़साने का किरदार हूँ मैं...
#AcceptanceisHappiness

ज़मीर ज़िंदा रख
कबीर ज़िंदा रख
सुल्तान भी बन जाए तो
दिल में फ़क़ीर ज़िंदा रख
हार जा जिन्दगी मे सब कुछ
मगर फिर से जीतने की उम्मीद जिन्दा रख
बहना हो तो बेशक बह जा
मगर सागर मे मिलने की चाह जिन्दा रख
मिटता हो तो मिट जा इंसान
मगर मिटने के बाद भी इंसानियत जिन्दा रख

Read More

ख़्वाहिशों का मोहल्ला बड़ा था...
हम जरूरतों की गली में मुड़ गए...
#SimpleLiving