civil engineer https://instagram.com/poetry_of_pravin?utm_source=ig_profile_share&igshid=1g9ow771m3ari

कुछ बाते थी जो बताना चाहता था।
तेरी मुस्कुराहट पे अपना दिन बिताना चाहता था।
थोड़ी सी ही सही पर महॉब्बत की थी तुमसे
बस दिल से ये बात बताना चाहता था।
लिखता हूं आज भी तो कलम रुकती नहीं है मेरी
तेरी नादानियां पे हसना चाहता था।
रूठ सी गई है जिंदगी तेरे बिना
तेरी बूंद सी महॉब्बत में डूबना चाहता था।
तेरे वो मासूम सवालों जवाब आज भी याद है
में उन पलों को फिर से जीना चाहता था।
तुम्हारे साथ गुजरी वो साम मेरी जिंदगी के
सबसे हसीन साम थी ये कहना चाहता था।
पता नहीं किसकी नजर लगी हमे,
थोड़ी सी ही सही पर महॉब्बत की थी तुमसे
बस दिल से ये बात बताना चाहता था।
कुछ बाते थी जो बताना चाहता था।
कुछ बाते थी जो बताना चाहता था।

Read More

वो जो आज हस रहे है वो कल भी कल भी हसेगे
परसो बात कुछ और होगी।
वो जो आज खिले है वो कल भी महकेंगे
परसो बात कुछ और होगी ।
आज हम खामोश है कल भी सायाद खामोश रहेंगे
परसो बात कुछ और होगी।
परिवर्तन ही तो संसार का नियम है,
आज तुम गुरूर के समंदर में डूब रहे हो कल हम डूबेंगे
परसो बात कुछ और होगी।

Read More

भूतकाल की भस्म लगा कर जा रहे हो तो सही जा रहे हो तुम
रेत के ढेर में समंदर को खोजने जा रहे हो तो सही जा रहे हो तुम
तूफानों के दिए हवा के जोको से डरा नहीं करते
बड़े अंधेरे कमरे में उजाला करते जा रहे हो तो सही जा रहे हो तुम।

Read More

शुक्रिया जनाब हमें खुद से वाकिफ कराने के लिए
शुक्रिया जनाब हमें जिंदगी के तरीके शिखाने के लिए
हम इतने मासूम है वो हमे भी पता नहीं था
शुक्रिया जनाब हमारी मासूमीयत का फायदा उठाने के लिए

Read More