I like Darkness and Coldness....

बचपन भी कमाल का था
ना कोई जरूरत थी,
ना कोई जरूरी था ।

ज़िन्दगी को समझना बहुत मुश्किल है, कोई सपनो की खातिर अपनो से दूर रहता है, और
कोई अपनो की खातिर सपनो से दूर रहता हैं

Read More

मशहूर होने का शौक़ यहां किसे है....
मुझे तो मेरे अपने ही
ठीक से पहचान ले तो भी काफी है....

इन्सान चाहे जितना खुद को व्यस्त कर ले,
जिससे उसने प्रेम किया है उसकी यादों से बच नहीं सकता !!

દિલ હોય કે દરિયો તરતા આવડે તોજ અંદર ઉતરવું.....

इश्क़ जिस तरफ भी निगाह कर गया
झोपड़ी हो या महल तबाह कर दिया

🙏

आगे आने वाला शहर कितना भी पसंदीदा क्यू ना हो पीछे छूटने वाला घर बेचैन कर ही देता हैं ।

ना दवा, ना दुआ
हे इश्क़
तेरे जैसी बीमारी आयी है मेरे शहर मैं....

-Mohit

वो इश्क ही क्या जो
किसी के चहेरे से हो...
मजा तो तब है जब इश्क
किसी की बातो से हो..❤️