खुद को पहचानना है तो पहले खुद के लिए जीना सिखो

please pray for my friend,her husband is suffering from cancer and right now he is in the hospital...taking last breath.....god please give her strength to take care of her 4 year daughter..

बचपन की सहेली है वो,
साथ कई शरारतें किया करते थे,
खट्टी मीठी यादों में भागीदारी थी,
तेरे दुख को तब भी अपना माना था और आज भी,
काश तेरे दुखो को मिटा पाती
आज भी दोस्ती उसी तरह से निभा पाती||

Read More

कोई भगवान की जात-पात क्यू नहीं पूछता|
मुसिबत में हर किसी के सामने हाथ अपने आप फैल जाते है|
वाह री दूनिया

क्यूं ना हम सब अपनी अपनी जाति वाले लोगों के साथ मिल कर एक अलग शहर बसा ले| क्योंकि दूसरे जाति वालो के साथ काम करना भी उतना ही बुरा जितना उनसे प्यार करना|

Read More

दूनिया ने खोखला कर दिया है अन्दर से
दिल खाली है और दीवार शाबाशी के तमगो से भरे हैं

जो जात-पात का ढोंग करते है वही लोग दोगले होते है|

ये रास्ते और बरसात,
ये तेरा साथ और हाथ,
और छतरी के नीचे वो अहसास,
आता है याद||
इस दफे मिलने आओ तो लाना इनको साथ|||

Read More

रिश्ते निभाने हैं तो किताब नहीं

दिलो को पढिए||||

दरार दीवारो में ही नहीं,

रिश्तों में भी आती है|

हर ख्वाहिश पूरी हो जरूरी नहीं
बस उसका दीदार हो जाये तो समझेगे खुदा ने रहमत बक्शी है|