Hey, I am on Matrubharti!

#merikavita2 #ek rupiya

मैं जितने पास जाती हूँ,
वो उतनी दूर जाता है,
कभी मेरे आगे, कभी मेरे पीछे
तो कभी साथ साथ जाता है,
वो मेरा साया है।

Read More

मुख सामनी ते खूब स्वांग भरीदी
परदेस जाके याद भी ने करिदी
रोनो रोनू छे दिन रात
सुन जा बधौ सी बरसात
बोल चिट्ठी किले नी भेजी
तीन चिट्ठी किले नी भेजी

Read More