Hey, I am on Matrubharti!

Zakhm bahut hai,, dikhayen kaun sa
Jo Tumne Diya vah Jo Logon Ne HAL poochh poochh kar kiye vah

-Lalit Mishra

Follow this link to join my WhatsApp group: https://chat.whatsapp.com/IatpctSNP0vBcpwLKtC3KW

उसने कहा कि वो मुझसे मिलने ना आएगा कभी

कोई उसको बता दो मेरे ख्वाबो पे उसका इख्तियार नहीं।

सुषमा मिश्रा ललित

Read More

मोरे भैया अइहै अनवइया सावनवा मा ना जइबै ननदी



सुषमा मिश्रा ललित

पति ने पत्नी से पूछा। तुम्हें टीवी में कौनसा प्रोग्राम पसंद, है, रामायण, की महाभारत।

पत्नी ने मुस्कुराते हुए कहा रामायण। पति ने पूछा फिर घर में महाभारत क्यों करती हो

सुषमा मिश्रा ललित?

Read More

वो दूर से पूछता है। तुम ठीक हो न। मैं हाँ मे जवाब न देती। तो क्या करती?

सुषमा मिश्रा, ललित?

कुछ कहना है कुछ सुनना है ,कुछ बातें अभी अधूरी है।

कुछ तू भी मुझमें छूटा है, कुछ मै भी तुझमें छूटी हूँ।

आ मिलकर शिकवे खत्म करे, कुछ तू भी मुझसे रुठा है, कुछ मै भी तूझसे रुठी हूँ।।

सुषमा मिश्रा ललित

Read More

कभी कभी मेरी मेरी पत्नी👰 के सिर में तेज् दर्द होता है कोई उपाय बताऐ
सलाहकार
कभी कभी आक्सीजन की कमी से भी दर्द होता है पीपल के पेड़🌴 में परियाप्त मात्रा में
आक्सीजन होती है

तब क्या पीपल के पेड़🌲 के नीचे सोना पडेगा

सुषमा मिश्रा ललित

Read More

कभी कभी हमारे पास शब्द ही शब्द होते हैं
परन्तु

कभी कभीजीवन में कुछ ऐसे पल भी आते है कि हम निशब्द होते हैं.

सुषमा मिश्रा ललित

Read More

मैं नंगे पांव दौडे़ जा रहा हूँ, अपने पांव के छालों को फोडे़ जा रहा हूँ
जो सपने लेकर आया मैंअपने गांव से एक दिन
शहर वीरान की इन तंग गलियों में छोडे़ जा रहा हूँ

मैं नंगे पांव दौडे़ जा रहा हूँ

रखकर हाथ कंधे पर लगाकर अपने सीने से,
मिली थी जो दुआएँ उनसे नाता आज तोड़ने जा रहा हूँ

मैं नंगे पांव दौडे़ जा रहा हूँ

खचाखच भीड़ में डूबी जो राहें जानती ना थी मुझे पहचानती ना थी

बहुत सुनसान है राहें, नही है दूर तक कोई,
ना जाने कौन सा रिश्ता मै इनसे आज जोड़े जा रहा हूँ

मैं नंगे पांव दौडे़ जा रहा🚶👭🚶👭🚶👭🚶👭 हूँ

लिखने की पूरी कोशिश की परन्तु मन शब्दों ने ज्यादा
साथ नही दिया, बस ईश्वर से प्रतिपल यही कामना करती हूँ,, हे करूणानिधान विश्व का कल्याण करो ,, मेरे मजबूर भाई बहन सकुशल घर🏡 पहुँच जायें धन हानि की पूर्ति तो हो जाऐगी हे ईश्वर जन हानि अब बन्द करें हम सब आपकी शरण आये हैं,
त्राहि माम्, ,त्राहि माम् ,,त्राहि माम्

सुषमा मिश्रा ललित

Read More