meri maa ne mujhe ek baat sikhayi h..beta koi haath se chheen ke le ja sakta h, naseeb se nahi. I like nature, writing, crafting.

tareeke badle hn irade nhi...chahe jindgi ho ya padhai...miss u.

बैचेन तो मन आज भी है, तुम्हें पढ़कर। बात इतनी सी है, तुमने अल्फ़ाज़ कभी लिखे ही नहीं।

सोचा थोड़ा रुककर बात कर लेती हूँ, आज खुद से मुलाकात कर लेती हूँ।
कुछ बीते लम्हे याद कर लेती हूँ, आज खुद से मुलाकात कर लेती हूँ।
दस्तक दी है फिर किसी जज्बात ने किस्मत से फरियाद कर लेती हूँ, आज खुद से मुलाकात कर लेती हूँ।

Read More

miss u..

har sehar me teri yaad h..jaise har pal tere saath muskurati hu

miss u...bpl , lucknow......and... gwl