Aankh ki Kirkiri - 3 by Rabindranath Tagore in Hindi Novel Episodes PDF

आँख की किरकिरी - 3

by Rabindranath Tagore Matrubharti Verified in Hindi Novel Episodes

(3) सीढ़ियों से राजलक्ष्मी ऊपर गईं। महेंद्र के कमरे में दरवाजे का एक पल्ला खुला था। सामने जाते ही मानो काँटा चुभ गया। चौंक कर ठिठक गई। देखा, फर्श पर महेंद्र लेटा है और दरवाजे की तरफ पीठ किए ...Read More