Izhaar by Dilbag Singh Virk in Hindi Love Stories PDF

इज़हार

by Dilbag Singh Virk in Hindi Love Stories

इज़हार हैलो, निखिल...किस सोच में डूबे हो। - इंदु ने निखिल को चुपचाप बैठे देखकर पूछा। रूचि और सुरेश भी उसके पीछे-पीछे पहुँच गए। कुछ खास नहीं, बस यूँ ही बैठा था। - निखिल ने ...Read More