ईर्ष्या ने पाप का भागीदार बना दिया

by Sohail Saifi Matrubharti Verified in Hindi Adventure Stories

फिर एक दिन अपने संकोच को त्याग कर हिकमिद ने दर्जी से उसकी इन दुर्लभ स्थिति में आने का कारण पूछा तो दर्जी बोलामेरी इन। स्थितियोंं का कोई एक कारण नहीं है ब्लकि अनेकों है जिनके स्मरण भर से ...Read More