Hindi Shayri videos by Pravin Ingle Watch Free

Published On : 12-Apr-2020 04:01am

355 views

कोशीशे तो बहोत की मैने तुझे भुलाने की
इस दिल ए नादान से भुलाई नही जाती
ख्वाहिशें तो हजारो है दिल की
जानता हू सभी तो पुरी नही होती
आस रहेगी तेरी एक मुलकात की
जब तक सांसो की लहरे रुक नही जाती....

#मुलाक़ात

0 Comments